Category: Love Peotry

0

Ek Pagli

एक पगली मेरा नाम जो ले शरमाये भी घबराये भी गलियों गलियों मुझसे मिलने आये भी घबराये भी रात गए घर जाने वाली गुमसुम लड़की राहों में अपनी उलझी जुल्फों को सुलझाए भी घबराये...

0

यार तुम कमाल करते हो

मुघ्को पागल कहते हो, हज़ारों सवाल करते हो – छोटी सी बात पर, इतना बवाल करते हो ग्रीन टेक की बातें करके, हाल बेहाल करते हो – यूँ रूठे रूठे रहते हो ,यार तुम...

0

जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रास्ता सुनसान हुआ अपना क्या है सारे शहर का इक जैसा नुकसान हुआ

जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रास्ता सुनसान हुआ अपना क्या है सारे शहर का इक जैसा नुकसान हुआ मेरे हाल पे हैरत कैसी दर्द के तनहा मौसम में पत्थर भी रो...