Category: Hindi Jokes

0

बुरा ना मानो होली है

बुरा ना मानो होली है कह कर, मेरे पडोसी ने मुझ पर रंग फेंका था । कल मैने भी बुरा ना मानो दिवाली है कह के, उस पर बम फेक दिया । अब सारा...

0

ये तो अच्छा है कि मेरे हर ख़्वाब पूरे नहीं होते

ये तो अच्छा है कि मेरे हर ख़्वाब पूरे नहीं होते… वरना मेरे दोस्त किन-किन को भाभी जी कहकर बुलाते.! …..

0

कामयाबी हौसलों से मिलती है

कामयाबी हौसलों से मिलती है, और … हौसले दोस्तों से मिलते हैं , और … दोस्त … ! मुक़द्दर वालों को मिलते हैं. इसलिए … जालिमों..! मेरी कदर किया करो …!!!

आप का यह देशी पैंट (पजामा) कितने दिन चल जाता है? 0

आप का यह देशी पैंट (पजामा) कितने दिन चल जाता है?

एक बार एक पजामा पहने हुए इंडियन से एक अंग्रेज ने पूछा: “आप का यह देशी पैंट (पजामा) कितने दिन चल जाता है? इंडियन ने जवाब दिया: “कुछ ख़ास नहीं, मैं इसे एक साल...

0

I love you

लालू – सोनिया जी से: सोनिया जी.. ई बतायें कि.. “I love you” का मतलब का होता है ? .. सोनिया : “मैं तुमसे प्यार करती हूँ”..! .. लालू : लो.. कर लो बात.....

0

जॉब से संतुष्टि की हद देखिए

जॉब से संतुष्टि की हद देखिए एक लड़के को एक गर्ल्स हॉस्टल में रिसेप्शनिस्ट का काम मिला। दो महीने के बाद परेशान होकर मालिक ने उसे बुलाया और कहा- तुम अपनी सैलरी लेने क्यों...

0

पीढियां खप गई पता लगाते लगाते कि दुनिया किस मिट्टी की बनी है।

पीढियां खप गई पता लगाते लगाते कि दुनिया किस मिट्टी की बनी है। . . . और एक समाज सेविका ने एक मिनट मे बता दिया।। .     ये दुनिया पीतल की……

0

नई बहू का जोरदार स्वागत

नई बहू जब ससुराल आई तो उसका जोरदार स्वागत किया गया.. स्वागत के बाद नई बहू ने निवेदन किया: मेरे प्यारे ससुराल वालो, आप लोगो ने मेरा जिस प्यार और आत्मीयता से स्वागत किया,...

0

I’m falling in love

लालू ने राबड़ी से I Love You कहा और गिर पड़े। फिर उठे, I Love You कहा और फिर गिर पड़े। राबड़ी : ई का है? लालू : देखती नहीं है ससुरी….. I’m falling...

0

बसंती की मौसी और ठाकुर

“अगर बसंती की मौसी, ठाकुर को राखी बांधे तो बसंती और ठाकुर का क्या रिश्ता हुआ ?. अपना-अपना काम करो कोई रिश्ता नहीं बनता; क्योंकि ठाकुर के हाथ ही नहीं थे.” 😍😀😂😊😜

मैंने तुमको गीता दी थी पढ़ने के लिए क्या तुमने गीता पढ़ी ? 0

मैंने तुमको गीता दी थी पढ़ने के लिए क्या तुमने गीता पढ़ी ?

पिता : ओ बेवकूफ़। मैंने तुमको गीता दी थी पढ़ने के लिए क्या तुमने गीता पढ़ी ? कुछ। दिमाग मे घुसा। पुत्र : हाँ पिताजी पढ़ ली। और अब आप । मरने के लिए...

0

हे इंद्रदेव

हे इंद्रदेव _/\_ अगर होली में पानी बरसाना इतना ही जरुरी था 🙂 तो बादल में दस बीस रूपये का रंग ही घोल देते 😉 हमारी होली हो जाती और आप का काम