एक बात आज तक समझ मै नहीं आई?

एक बात आज तक समझ मै नहीं आई।????
धर्म-पिता – मतलब असली पिता नहीं.
धर्म-माता – मतलब असली माता नहीं.
धर्म-पुत्र – मतलब असली पुत्र नहीं.
धर्म-भाई – मतलब असली भाई नहीं.
धर्म-बहन – मतलब असली बहन नहीं.

लेकिन ….
ये जबर्दस्त गलती कैसे हुई.?
धर्म-पत्नी – मतलब असली पत्नी.
😳
पता करो शास्त्रों में कहां गलती हुई?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *